Google Health की हेल्थकेयर टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाने वाले विशेषज्ञों से मिलें

विशेषज्ञों की हमारी टीम विज्ञान के क्षेत्र में हासिल महारत, लोगों के काम की टेक्नोलॉजी, और भरोसेमंद इन्फ़्रास्ट्रक्चर की मदद से स्वास्थ्य सेवाओं के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारी हेल्थकेयर टीम की सूची में इंजीनियर, डिज़ाइनर, रिसर्च करने वाले लोग, और कई अन्य प्रोफ़ेशनल शामिल हैं. ये लोग, ज़्यादा बेहतर ज़िंदगी जीने में दूसरों की मदद जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं. प्रॉडक्ट से लेकर टीम बनाने तक, सभी कामों में विविधता, समानता और सबको शामिल करने को बढ़ावा देने की हमारी प्रतिबद्धता, हमारे सिद्धांत का मूल आधार है.

वर्ल्ड मैप का डॉट इलस्ट्रेशन

स्वास्थ्य के क्षेत्र में विशेषज्ञता से मदद

Google Health की सभी पहल - नए प्रॉडक्ट से लेकर रिसर्च तक को, अपने-अपने क्षेत्र के विशेषज्ञ स्वास्थ्यकर्मियों के निकट सहयोग से डिज़ाइन और डेवलप किया गया है. हमारी टीम के पास क्लिनिकल प्रैक्टिस, सार्वजनिक स्वास्थ्य, हेल्थ इकोनॉमिक्स रिसर्च के साथ ही मेडिसिन के क्षेत्र में एआई (AI) और मशीन लर्निंग का कई दशकों का अनुभव और विशेषज्ञता है. इन सबसे यह पक्का होता है कि Google Health की पहल डायग्नोस्टिक के ऊंचे मानकों का पालन करती हैं.

डॉ॰ कैरन डीसाल्वो की फ़ोटो
डॉ॰ कैरन डीसाल्वो की फ़ोटो

डॉ॰ कैरन डीसाल्वो

चीफ़ हेल्थ ऑफ़िसर

डॉ॰ कैरन डीसाल्वो एक फ़िज़िशियन एक्ज़ेक्यूटिव हैं, जो चिकित्सा, सार्वजनिक स्वास्थ्य, और इन्फ़ोर्मेशन टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में काम कर रही हैं. अपने करियर में इन्होंने सभी लोगों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने और उन्हें समान स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने को अहमियत दी है. वे Google में, स्वास्थ्यकर्मियों की टीम का नेतृत्व कर रही हैं. यह टीम, इन्क्लूसिव रिसर्च के साथ ही, प्रॉडक्ट और सेवाएं डेवलप करने के बारे में सुझाव देती है. वे Google की COVID रिस्पॉन्स टीम में भी शामिल थीं. Google में आने से पहले डॉ॰ डीसाल्वो, ओबामा की सरकार में हेल्थ इन्फ़ोर्मेशन टेक्नोलॉजी की नैशनल कोऑर्डिनेटर और स्वास्थ्य विभाग में असिस्टेंट सेक्रेटरी थीं. डिपार्टमेंट ऑफ़ हेल्थ ऐंड ह्यूमन सर्विसेज़ (एचएचएस) में अपने कार्यकाल के दौरान, इन्होंने उपभोक्ताओं के हिसाब से अच्छी क्वालिटी की स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने वाला ट्रांसपैरंट हेल्थ सिस्टम डेवलप करने पर काम किया. न्यू ऑरलियंज़ में कटरीना नाम का तूफ़ान आने के बाद, इन्होंने वहां हेल्थ कमिश्नर के तौर पर काम किया. वे पहले, टुलेन स्कूल ऑफ़ मेडिसिन में कम्यूनिटी अफ़ेयर्स ऐंड हेल्थ पॉलिसी विभाग की डीन थीं. यहां इन्होंने इंटरनल मेडिसिन फ़िज़िशियन, शिक्षक, शोधकर्ता, और लीडर के तौर पर काम किया. वे काउंसिल ऑफ़ द नैशनल अकैडमी ऑफ़ मेडिसिन में भी काम करती हैं.

डॉ॰ माइकल हावल

डॉ॰ माइकल हावल

चीफ़ क्लिनिकल ऑफ़िसर और डेप्युटी चीफ़ हेल्थ ऑफ़िसर

डॉ॰ माइकल हावल का करियर, स्वास्थ्य सेवाओं की क्वालिटी, अनुभव, और सुरक्षा को बेहतर बनाने पर केंद्रित है. वे इस क्षेत्र में भी रिसर्च करते हैं कि टेक्नोलॉजी, स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने में कैसे मदद कर सकती है. डॉ॰ हावल, स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराने से जुड़े विज्ञान के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर पहचाने जाने वाले विशेषज्ञ हैं. इन्होंने सेंटर्स फ़ॉर डिज़ीज़ कंट्रोल ऐंड प्रिवेंशन (सीडीसी), मेडिकेयर, और नैशनल अकैडमी ऑफ़ मेडिसिन के सलाहकार पैनल में भी काम किया है. स्वास्थ्य के क्षेत्र में इनके लेखन की बहुत अहमियत है. कई शोधकर्ताओं ने अपने लेखों में इनके लेखन का 10,000 से भी ज़्यादा बार हवाला दिया है. साथ ही, राष्ट्रीय स्तर पर लागू कई दिशा-निर्देशों में इनके लेखन को आधार बनाया गया है. पल्मनेरी और क्रिटिकल केयर फ़िज़ीशियन, डॉ॰ हावल ने हार्वर्ड और शिकागो यूनिवर्सिटी में मरीज़ों की कई सालों तक देखभाल की है. शिकागो यूनिवर्सिटी में वे चीफ़ क्वालिटी ऑफ़िसर थे.

बकुल पटेल

बकुल पटेल

सीनियर डायरेक्टर, ग्लोबल डिजिटल हेल्थ स्ट्रेटजी ऐंड रेगुलेटरी

बकुल पटेल का मकसद ऐसी यूनिफ़ाइड डिजिटल हेल्थ स्ट्रेटजी बनाना है जो पूरी दुनिया की नई कानूनी ज़रूरतों के मुताबिक हो. उनका लक्ष्य, बेहतर स्वास्थ्य सेवा को सभी लोगों तक पहुंचाने में टेक्नोलॉजी की क्षमता और इसकी भूमिका को समझने में उनकी मदद करना है. Google से जुड़ने से पहले, उन्होंने डिजिटल हेल्थ सेंटर ऑफ़ एक्सिलेंस ग्लोबल स्ट्रेटजी ऐंड इनोवेशन के चीफ़ डिजिटल हेल्थ ऑफ़िसर और यूएस फ़ूड ऐंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफ़डीए) के डायरेक्टर के पद पर काम किया था. इन भूमिकाओं में रहते हुए, उन्होंने लीडरशिप और अपनी विशेषज्ञता से जुड़ी सेवाएं दीं. उन्होंने डिजिटल हेल्थ के लिए ज़रूरी नियम-कानून बनाए और “सॉफ़्टवेयर ऐज़ अ मेडिकल डिवाइस” (SaMD) नाम का शब्द दिया. साथ ही, उन्होंने वैश्विक स्तर पर मेडिकल डिवाइस के रेगुलेटर के लिए, जोखिम से निपटने का एक ढांचा भी तैयार किया. वे सॉफ्वे़टयर प्री-सर्टिफ़िकेशन पायलट प्रोग्राम और आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेंस/मशीन लर्निंग (एआई/एमएल)-आधारित सॉफ्वे़टयर के डिज़ाइनर भी थे.

लारा गार्सिया

लारा गार्सिया

हेल्थ कंप्लायंस स्ट्रेटजी ऐंड बिज़नेस सॉल्यूशंस लीड

लारा एक हेल्थ कंप्लायंस लीडर हैं. उनके पास हेल्थ कंप्लायंस का 15 साल से ज़्यादा का अनुभव है. Google से जुड़ने से पहले, वे हेल्थ से जुड़ी टॉप फ़ॉर्चून 500 कंपनियों में सीनियर कंप्लायंस की भूमिका निभाती थीं. भरोसे और सुरक्षा की भावना को बढ़ाने के लिए, नए कंप्लायंस प्रोग्राम डिज़ाइन करने और उन्हें मुहैया कराने का काम करने वाली ग्लोबल टीमों को उन्होंने बेहतरीन लीडरशिप दी. लारा ने सिलिकॉन वैली में हेल्थकेयर स्टार्ट-अप से अपने प्रोफ़ेशनल करियर की शुरुआत की. लारा ने कैलिफ़ोर्निया यूनिवर्सिटी, सैन डिएगो से माइक्रोबायोलॉजी में बैचलर ऑफ़ साइंस की डिग्री और कैलिफ़ोर्निया यूनिवर्सिटी, लॉस एंजेलिस से सार्वजनिक स्वास्थ्य में मास्टर डिग्री की हासिल की.

डॉ॰ सोहिनी स्टोन

ग्लोबल एम्प्लॉयी हेल्थ टीम की चीफ़ मेडिकल ऑफ़िसर

डॉ॰ सोहिनी स्टोन ने एमडी और एमबीए की पढ़ाई की है. वे Google में ग्लोबल एम्प्लॉयी हेल्थ टीम को लीड करती हैं. यह टीम, Google के कर्मचारियों, उनके परिवार के सदस्यों, और उनसे जुड़े लोगों के लिए हेल्थ प्रोग्राम बनाती है और स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराती है. इसके लिए, यह Google की अन्य टीमों के साथ मिलकर काम करती है. यह टीम, प्रोग्राम बनाते समय और सेवाएं उपलब्ध कराते समय, स्वास्थ्य से जुड़े सभी पहलुओं (शारीरिक, मानसिक, और सामाजिक) का ध्यान रखती है. यह टीम, पक्का करती है कि Google के प्रोग्राम और सेवाएं, Google से जुड़े सभी लोगों के लिए उपलब्ध हों. चाहे, उन लोगों की भूमिका, काम करने की जगह वगैरह अलग-अलग हों. प्रोग्राम और सेवाएं, दोनों ही वैज्ञानिक शोध और साक्ष्यों पर आधारित होते हैं. डॉ॰ स्टोन के पास स्वास्थ्य सेवाओं की क्वालिटी और प्रोसेस को बेहतर बनाने का अनुभव है. साथ ही, उनकी कोशिश रहती है कि स्वास्थ्य सेवाएं देने के दौरान मरीज़ों को कोई नुकसान न हो. Google में आने से पहले, वे सिलिकॉन वैली के एक उभरते हुए हेल्थ स्टार्ट-अप में क्लिनिकल टीम, क्वालिटी टीम, और कारोबार से जुड़े आंकड़ों का विश्लेषण करने वाली टीम को लीड करती थीं. डॉ॰ स्टोन ने बॉस्टन यूनिवर्सिटी से मेडिकल और एमबीए की पढ़ाई की है. साथ ही, उन्होंने डार्टमथ मेडिकल स्कूल से पीडियाट्रिक्स रेज़िडेंसी ट्रेनिंग प्रोग्राम पूरा किया है. इसके अलावा, स्टैनफ़र्ड/लूसील पैकर्ड चिल्ड्रन हॉस्पिटल से नीओनेटल-पेरिनेटल मेडिसिन फ़ेलोशिप प्रोग्राम भी पूरा किया है.

एमी मैकडॉना

मैनेजिंग डायरेक्टर, स्ट्रटीजिक हेल्थ सलूशन

एमी पार्टनरशिप के फ़ायदों को लेकर उत्साहित हैं, ताकि साथ मिलकर ऐसी नई सुविधाएं डेवलप की जा सकें जिनसे इनोवेशन को बढ़ावा मिले और बड़े पैमाने पर लोगों के स्वास्थ्य में सुधार लाया जा सके. स्ट्रटीजिक हेल्थ सलूशन की टीम, हमारे प्रॉडक्ट रोडमैप में इंडस्ट्री की अहम जानकारी और इंटेलिजेंस को जोड़ती है. इसका मकसद यह पक्का करना है कि हम Google की टेक्नोलॉजी और टूल का बेहतरीन इस्तेमाल करके, दुनिया भर के करोड़ों लोगों के स्वास्थ्य में सुधार ला सकें. स्ट्रटीजिक हेल्थ सलूशन की टीम, एमी की बनाई स्वास्थ्य से जुड़े Fitbit के प्रॉडक्ट टीम की मज़बूत बुनियाद पर तैयार की गई है. इस टीम ने बेहतर देखभाल और असरदार नतीजों के लिए हेल्थकेयर नेटवर्क के साथ मिलकर काम किया है. Fitbit से पहले एमी ने CNET Networks के लिए, कई रणनीतिक भूमिकाओं में काम किया है. उनका फ़ोकस स्ट्रटीजिक पार्टनरशिप के साथ-साथ ऑडियंस और कॉन्टेंट डेवलपमेंट पर रहा है. एमी ने मैसाचुसेट्स के नॉर्थ ऐंडओवर स्थित मेरीमैक कॉलेज से बैचलर डिग्री और यूसी बर्कले से इंटिग्रेटेड मार्केटिंग कम्यूनिकेशंस में प्रोफ़ेशनल सर्टिफ़िकेट लिया है.

रिसर्च, खोज, और प्रयोग की मदद से इनोवेशन

स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में बड़े स्तर पर बदलाव लाने वाली टेक्नोलॉजी, गहन शोध से मिलती हैं. Google Health में, हमने एम्बेडेड रिसर्च और डेवलपमेंट का मॉडल अपनाया है. इसके तहत वैज्ञानिक, प्रॉडक्ट और इंजीनियरिंग टीमों के साथ मिलकर काम करते हैं. कई क्षेत्रों के विशेषज्ञों के साथ मिलकर काम करने से, अलग-अलग बैकग्राउंड और विशेषज्ञता वाले शोधकर्ताओं को क्लिनिकल साइंस, आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेंस, क्लिनिकल साइंस, उपयोगकर्ताओं के लिहाज़ से की जाने वाली डिज़ाइनिंग वगैरह की बाधाओं को पार करने में मदद मिलती है.

डॉ॰ मारिया नातेस्ताद की फ़ोटो

डॉ॰ मारिया नातेस्ताद

सॉफ़्टवेयर इंजीनियर

डॉ॰ मारिया नातेस्ताद एक सॉफ़्टवेयर इंजीनियर हैं और Google Health की जीनोम टीम की सदस्य हैं. यहां वे DeepVariant टेक्नोलॉजी पर काम करती हैं. यह डीप लर्निंग पर आधारित वैरिएंट कॉलर है, जो जीनोम का सीक्वेंस डेटा पाने में मदद करता है. डॉ॰ नातेस्ताद मुख्य तौर पर, वैज्ञानिकों, डॉक्टरों, और मरीज़ों को जीन (वंशाणु) से जुड़ी ज़्यादा और सटीक जानकारी उपलब्ध कराने के लिए काम करती हैं, ताकि वे स्वास्थ्य से जुड़े बेहतर फ़ैसले ले सकें. Google में आने से पहले, इन्होंने न्यूयॉर्क की कोल्ड स्प्रिंग हार्बर लैबोरेट्री से पीएचडी की डिग्री हासिल की. वहां वे कैंसर से जुड़ी रिसर्च में लॉन्ग-रेंज जीनोम डेटा इस्तेमाल करने के लिए, एल्गोरिदम और विज़ुअलाइज़ेशन टूल पर काम करती थीं. पीएचडी करने के बाद, इन्होंने जीनोम विज़ुअलाइज़ेशन सॉफ़्टवेयर का कारोबार शुरू किया. साथ ही, OMGenomics के नाम से इनका एक YouTube चैनल भी है. इस पर वे लोगों को बायोइन्फ़ॉर्मैटिक्स का अध्ययन करने की सलाह देती हैं.

डॉ॰ युवान लू की फ़ोटो

डॉ॰ युवान लू

सॉफ़्टवेयर इंजीनियर

डॉ॰ युवान लू एक सॉफ़्टवेयर इंजीनियर हैं और Google Health की डर्मेटोलॉजी टीम की सदस्य हैं. फ़िलहाल, वे डर्मेटोलॉजी से जुड़े कई रिसर्च और डेवलपमेंट प्रोग्राम का नेतृत्व कर रही हैं. वे मुख्य तौर पर, एआई (AI) का इस्तेमाल करने वाले टूल बनाने पर काम कर रही हैं, ताकि लोगों को स्वास्थ्य से जुड़ी सटीक जानकारी उपलब्ध कराई जा सके और स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाया जा सके. इन्होंने Google Maps में, बड़े पैमाने पर यूज़र जनरेटेड कॉन्टेंट पर कंप्यूटर विज़न की तकनीकों को लागू करने पर भी काम किया है. Google में आने से पहले, इन्होंने वैंडरबिल्ट यूनिवर्सिटी से मेडिकल इमेज प्रोसेसिंग में पीएचडी की डिग्री हासिल की. इस यूनिवर्सिटी में, इन्होंने इमेज का इस्तेमाल करके न्यूरोसर्जिकल प्रक्रियाओं को बेहतर बनाने के लिए, रेडियोलॉजी इमेज (सीटी और एमआरआई) का बेहतरीन तरीके से विश्लेषण किया था. फ़िलहाल, वे आईएसआईसी स्किन इमेज ऐनालिसिस पर अगली वर्कशॉप के लिए सह-अध्यक्ष के पद पर काम कर रही हैं. साथ ही, त्वचा की इमेज के विश्लेषण पर आने वाले और अंकों के लिए अतिथि संपादक के तौर पर काम कर रही हैं.

डॉ॰ एरिक टीसली की फ़ोटो

डॉ॰ एरिक टीसली

टेक्निकल प्रोग्राम मैनेजर

डॉ॰ एरिक टीसली एक टेक्निकल प्रोग्राम मैनेजर हैं और Google Health में मोबाइल मेट्रिक्स से जुड़ी ज़रूरी जानकारी (मोबाइल वाइटल्स) और हेल्थ इक्विटी की टीमों का हिस्सा हैं. इन्होंने सिंक्रोनाइज़्ड वीडियो और असल दुनिया में मिले नतीजों की जांच (ग्राउंड ट्रुथ) के लिए ज़रूरी जानकारी के संकेत देने वाला डेटा इकट्ठा करने के लिए, मोबाइल वाइटल्स टीम का पहला प्लैटफ़ॉर्म डेवलप किया. साथ ही, Google Fit ऐप्लिकेशन की सुविधाओं के तौर पर, स्मार्टफ़ोन के कैमरे की मदद से धड़कन की दर और सांस की दर मापने वाली उन टेक्नोलॉजी पर प्रायोगिक अध्ययन (पायलट स्टडी) किया जिन्हें इस टीम ने डेवलप किया था. डॉ॰ टीसली के पास इन टेक्नोलॉजी को अलग-अलग लोगों की ज़रूरतों के हिसाब से डेवलप करने का अनुभव था, इसलिए इन्हें Google Health में, रिसर्च में समानता को बढ़ावा देने वाली प्रक्रियाएं डेवलप करने का काम मिला. Google में आने से पहले, इन्होंने स्टैनफ़र्ड यूनिवर्सिटी से बायोइंजीनियरिंग में एमडी और एमएस की डिग्री पूरी की. इस यूनिवर्सिटी में इन्होंने टिशू इंजीनियरिंग के व्यावहारिक इस्तेमाल के लिए, ग्रोथ फ़ैक्टर डिलीवरी के नए तरीके डेवलप करने में माइक्रोफ़्लूइडिक्स का इस्तेमाल किया. साथ ही, अलग-अलग कोशिकाओं को कैप्चर करने और उन्हें जांचने के लिए टूल बनाए. इन्होंने स्टैनफ़र्ड यूनिवर्सिटी से ही केमिकल इंजीनियरिंग में बीएस भी किया है.

डॉ॰ सनी जेनसन की फ़ोटो

डॉ॰ सनी जेनसन

टेक्निकल प्रोग्राम मैनेजर

डॉ॰ जेनसन एक टेक्निकल प्रोग्राम मैनेजर हैं. वे ऑन्कोलॉजी, मेडिकल इमेजिंग, और मशीन लर्निंग के क्षेत्र में काम करती हैं. साथ ही, Google की बुनियादी रिसर्च की मदद से, मरीज़ों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने पर भी काम करती हैं. Google में आने से पहले, वे Verily Life Sciences में काम करती थीं. वहां वे बीमारियों के अलग-अलग लक्षणों के लिए, रेगुलेटरी स्ट्रेटजी और मशीन लर्निंग टेक्नोलॉजी के क्लिनिकल डेवलपमेंट पर काम करने वाली टीम का नेतृत्व करती थीं. इन्होंने फ़ूड ऐंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफ़डीए) में, स्तन कैंसर की पहचान और जांच करने से जुड़ी टेक्नोलॉजी डेवलप करने वाली टीम में लीड रिव्यू साइंटिस्ट के तौर पर काम किया है. साथ ही, नैशनल कैंसर इंस्टिट्यूट (एनसीआई) में स्तन कैंसर जेनेटिक्स पर रिसर्च भी की है. डॉ॰ जेनसन ने शिकागो यूनिवर्सिटी से मेडिकल फ़िज़िक्स में पीएचडी की है.

डॉ॰ क्रिस कैली की फ़ोटो

डॉ॰ क्रिस कैली

क्लिनिशियन साइंटिस्ट

डॉ॰ क्रिस्टफ़र कैली एक क्लिनिशियन साइंटिस्ट हैं और Google Health की आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेंस इमेजिंग ऐंड डाइग्नोस्टिक्स टीम के सदस्य हैं. वे मुख्य तौर पर, Google की बेहतरीन आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेंस रिसर्च की मदद से स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में बड़ा बदलाव लाने की दिशा में काम कर रहे हैं. Google में आने से पहले, इन्होंने लंदन के किंग्स कॉलेज में मेडिकल इमेजिंग में पीएचडी की. चिकित्सा विशेषज्ञ के तौर पर, इन्होंने NeoMate नाम से एक ऐसा स्मार्टफ़ोन ऐप्लिकेशन बनाया जिससे दुनिया भर के डॉक्टरों और नर्सों को, बीमार नवजात शिशुओं की देखभाल करने में मदद मिलती है. इस ऐप्लिकेशन को पुरस्कार भी मिला था. डॉ॰ कैली, लंदन के सेंट थॉमस हॉस्पिटल की नीओनेटल इंटेंसिव केयर यूनिट में बाल रोग चिकित्सक (पीडियाट्रिशन) के तौर पर काम कर रहे हैं. चिकित्सा के क्षेत्र में काम करने के साथ ही, इन्होंने दो इंटरनेट कंपनियां शुरू की थीं जिन्हें बाद में बेच दिया. वे टेक्नोलॉजी स्टार्टअप में एंजल इन्वेस्टर के तौर पर निवेश भी करते हैं.

Google Health में करियर

Google Health टीम, टेक्नोलॉजी से जुड़ी विशेषज्ञता को डायग्नोस्टिक के सबसे सही तरीकों और मरीज़ों को प्राथमिकता देने के सिद्धांतों के साथ जोड़कर काम करती है. यहां हेल्थकेयर में काम करने में दिलचस्पी रखने वाले और उत्साही लोगों को काम करने का शानदार मौका मिलता है. क्या आपको हमारी टीम में शामिल होना है?