मां और बेटी ने एक-दूसरे को गले लगाया हुआ है

पहले यह सोचना भी मुश्किल था कि एआई (AI) तकनीक का इस्तेमाल करके, इमेजिंग टूल और बीमारियों-स्थितियों का पता लगाने वाला टूल बनाया जा सकता है

दुनिया भर के स्वास्थ्य संगठनों के साथ मिलकर काम करते हुए, हम मज़बूत एआई (AI) तकनीक का इस्तेमाल करने वाला नया टूल बनाने पर शोध कर रहे हैं, ताकि बीमारियों और स्थितियों का पता लगाने में स्वास्थ्यकर्मियों की मदद की जा सके. हम अलग-अलग तरह के डेटासेट, अच्छी क्वालिटी वाले लेबल, और मॉडर्न डीप लर्निंग तकनीकों का इस्तेमाल करके, ऐसे मॉडल बना रहे हैं जिनसे हमें उम्मीद है कि आने वाले समय में, चिकित्सा विशेषज्ञों को बीमारियों और स्थितियों का पता लगाने में मदद मिलेगी. हमारी टीम में इस शोध को नए आयामों तक पहुंचाने के लिए ज़बरदस्त जोश है. हम यह भी साबित करेंगे कि एआई (AI) तकनीक का इस्तेमाल करके, बीमारियों और स्थितियों का पता लगाने के बेहतर और नए तरीके डेवलप किए जा सकते हैं.

इस प्रॉडक्ट को यूरोपीय संघ (ईयू) में सीई मार्किंग के तहत, क्लास 1 मेडिकल डिवाइस के तौर पर मार्क किया गया है. यह प्रॉडक्ट, संयुक्त राज्य अमेरिका में उपलब्ध नहीं है.

त्वचा से जुड़ी बीमारियों और स्थितियों की जानकारी को ज़्यादा से ज़्यादा लोगों तक पहुंचाना

हम कंप्यूटर विज़न एआई (AI) और इमेज खोजने की सुविधाओं का इस्तेमाल करके एक टूल बना रहे हैं. इससे लोगों को अपनी त्वचा, बालों, और नाखूनों से जुड़ी स्थितियों को बेहतर तरीके से देखने और पहचानने में मदद मिलेगी. इस टूल में सैकड़ों स्थितियों की जानकारी है. इसमें 80% से भी ज़्यादा ऐसी स्थितियां शामिल हैं जिनके लिए लोग डॉक्टर के पास जाते हैं. साथ ही, 90% से ज़्यादा ऐसी स्थितियां हैं जिन्हें इंटरनेट पर सबसे ज़्यादा खोजा जाता है. इस टूल के बारे में, नेचर मेडिसिन जर्नल और जामा नेटवर्क ओपन जर्नल में खास तौर पर बताया गया है. ज़्यादा जानें

आंखों से जुड़ी बीमारियों और स्थितियों से निपटने में डॉक्टरों की मदद करने के लिए, एआई (AI) तकनीक का इस्तेमाल करना

फेफड़े के कैंसर का बेहतर तरीके से पता लगाने के लिए, एआई (AI) का इस्तेमाल करना

स्तन कैंसर का बेहतर तरीके से पता लगाने के लिए, एआई (AI) का इस्तेमाल करना

इमेजिंग टूल और बीमारियों का पता लगाने वाले टूल बनाने से जुड़ी अन्य रिसर्च

हम अन्य क्षेत्रों में भी, एआई (AI) का इस्तेमाल करके बने इमेजिंग टूल की रिसर्च को आगे बढ़ाने के लिए लगातार काम कर रहे हैं. हमें उम्मीद है कि इससे, बीमारियों का पता लगाने के बेहतर और नए तरीके डेवलप किए जा सकते हैं.